D Pharmacy Ke Baad Kya Kare: नौकरियाँ, अवसर, वेतन पूरी जानकारी

5/5 - (1 vote)

क्या आपको भी समझ नहीं आ रहा है की D Pharmacy Ke Baad Kya Kare तो आप भी शायद मेरी तरह ही है। क्योंकि मुझे भी यह समझ नहीं आ रहा था कि डी फार्मा करने के बाद क्या किया जाए इसलिए मैंने इस फील्ड के बारे में पूरी जानकारी जुटा ली है।

D Pharmacy Ke Baad Kya Kare
D Pharmacy Ke Baad Kya Kare

मेडिकल सेक्टर में एक से बढ़कर एक कोर्स है और डी फार्मेसी उन्हें मेडिकल कोर्स में से एक है। लेकिन अधिकतर छात्रों को इस कोर्स को करने के बाद समझ ही नहीं आता है कि डी फार्मा पूरा हो जाने के बाद क्या करना चाहिए। क्योंकि इस टाइम पर मेडिकल छात्रों के पास कई ऑप्शन मौजूद होते हैं।

आप चाहे तो D Pharmacy करने के बाद अपना मेडिकल स्टोर शुरू कर सकते हैं या कोई मेडिकल कंपनी में जब प्राप्त कर सकते हैं या फिर आगे और भी पढ़ाई कर सकते हैं। तो चलिए डी फार्मेसी कोर्स के बारे में विस्तार से जानते हैं।

Contents

डी फार्मा क्या है | D Pharma Kya Hai

D Pharmacy करने के बाद क्या करें यह जानने से पहले डी फार्मा क्या होता है यह जानना जरूरी है। डी फार्मेसी का पूरा नाम या कहे तो फुल फॉर्म डिप्लोमा इन फार्मेसी होता है यह एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स की अवधि 2 साल की होती है जिसे 12वीं के बाद कर सकते हैं।

इस कोर्स के दौरान विद्यार्थियों को मेडिकल क्षेत्र के विभिन्न सेक्टर जैसे: फार्मास्यूटिकल जुरिस्प्रूडेंस, बायोकेमेस्ट्री, हॉस्पिटल एंड चिकित्सक फ्रेम, फार्मकोग्नोसि, फार्माकोलॉजी इत्यादि और भी कई तरह के जानकारी दी जाती है। और थ्योरी पोर्शन खत्म हो जाने के बाद विद्यार्थियों को 3 महीने की ट्रेनिंग कराई जाती है।

यदि आप डी फार्मा करना चाहते हैं तो 12वीं के बाद इस कोर्स को करने के लिए एडमिशन दे सकते हैं। एडमिशन लेने के लिए पहले डी फार्मा का एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा इसके पश्चात ही एडमिशन ले पाएंगे।

डी फार्मा फुल फॉर्म | D Pharma Full Form in Hindi

डी फार्मा का फुल फॉर्म इंग्लिश में “Diploma in Pharmacy” होता है और हिंदी में इसे ‘फार्मेसी में डिप्लोमा’ के नाम से जानते हैं यह 2 साल का एक डिप्लोमा कोर्स होता है। इस कोर्स को करने के बाद आप मेडिकल सेक्टर में अपना कैरियर बना सकते हैं।

डी फार्मेसी के बाद क्या करें | D Pharmacy Ke Baad Kya Kare

यदि आपने डी फार्मेसी कर ली है या करना चाहते हैं डी फार्मा के बाद क्या करें? (D Pharmacy ke baad kya kare) इसके बारे में आपको जरुर जानना चाहिए। D.Pharma एक डिप्लोमा कोर्स है और इसको करने के बाद आप कहीं नौकरी प्राप्त कर सकते हैं या आगे और भी पढ़ाई कर सकते हैं।

डी फार्मेसी करने के बाद मेडिकल क्षेत्र में निम्नलिखित करियर ऑप्शन उपलब्ध है:-

  • प्राइवेट हॉस्पिटल
  • प्राइवेट मेडिकल क्लिनिक
  • सरकारी हॉस्पिटल
  • फार्मास्यूटिकल फॉर्म
  • क्लीनिक स्वास्थ्य केंद्र
  • अनुसंधान केंद्र
  • मेडिकल सेल्स एंड मार्केटिंग डिपार्मेंट
  • मेडिकल प्रयोगशाला
  • एजुकेशन सेक्टर
  • खाद्य एवं मौसम केंद्र

डी फार्मा करने के बाद प्राइवेट सेक्टर में करियर के ऑप्शन के बारे में हमने बता दिया है। लेकिन अधिकतर विद्यार्थी डी फार्मा करने के बाद गवर्नमेंट जॉब में ही जाना चाहते हैं इसके बारे में हमने यहां विस्तार से बताया है।

डी फार्मा के बाद कौन सा कोर्स करें | D Pharma Ke Baad Kaun Sa Course Kare

डी फार्मा करने के बाद नौकरी के कौन-कौन से विकल्प मौजूद हैं इसके बारे में ऊपर हमने बता दिया है। लेकिन यदि आप नौकरी नहीं करना चाहते हैं या फिर नौकरी के साथ है। डी फार्मा करने के बाद आगे और पढ़ना चाहते हैं तो इसके बारे में भी हमने नीचे टेबल के माध्यम से बताया है।

यह सारणी आपको बेहतर निर्णय लेने में मदद करेगी। मुझे उम्मीद है कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद D Pharma ke baad kaun sa course kare, इससे संबंध जानकारी है आपको जरूर मिल जाएगी।

  • बी.फार्मा (बैचलर ऑफ फार्मेसी)
  • एम.फार्मा (मास्टर ऑफ फार्मेसी)
  • फार्म.डी (डॉक्टर ऑफ फार्मेसी )
  • डिप्लोमा इन फार्मेसी मैनेजमेंट
  • डिप्लोमा इन क्लीनिकल रिसर्च
  • बैचलर इन फार्मेसी (आयुर्वेद)

डी फार्मा कोर्स के लिए योग्यता | D Pharma Course Ki Eligibility 

यदि आप डी फार्मा कोर्स करने के लिए सीरियस है तो सबसे पहले इस कोर्स को करने की योग्यता पूरा करना होगा तभी जाकर आप D Pharma Course करने की योग्य होगी। डी फार्मा कोर्स की योग्यता क्या है इसके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है।

  • डी फार्मा कोर्स करने के लिए उम्मीदवार मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में 12वीं पास होना चाहिए।
  • साइंस स्ट्रीम से 12वीं कक्षा में विद्यार्थी के कम से कम 50% से अधिक अंक होना अनिवार्य है।
  • आवेदक तक की आयु 16 साल से अधिक होनी चाहिए।
  • डी फार्मा कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा लिया जाता है उम्मीदवार को इस कोर्स को करने के लिए प्रवेश परीक्षा को पास करना अनिवार्य है।

डी फार्मा कितने साल का होता है | D Pharma Kitne Saal Ka Hota Hai

यदि आप डी फार्मा कोर्स के बारे में पहली बार सुन रहे हैं। तो आपको शायद पता नहीं होगा कि डी फार्मा कितने साल का होता है? डी फार्मेसी एक डिप्लोमा कोर्स है और अन्य डिप्लोमा कोर्स की तरह ही डी फार्मा कोर्स 2 सालों का होता है इन 2 सालों में आपको चार सेमेस्टर पढ़ते होंगे।

कोर्स के दौरान विद्यार्थियों को विभिन्न दवाइयां, उनके उपयोग, डोज, साइड इफेक्ट और एंटीडोट जैसे कई तरह के नॉलेज दिए जाते हैं और कोर्स खत्म हो जाने के बाद 3 महीने की ट्रेनिंग के बाद यह कोर्स पूरा हो जाता है।

डी फार्मा करने के फायदे | D Pharma Karne Ke Fayde

यदि आप असमंजस में है की आपको डी फार्मा करना चाहिए कि नहीं तो मेरे ख्याल से आपको डी फार्मा करने के क्या फायदे हैं। इसके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए इसके बाद आप सही निर्णय ले पाएंगे कि आखिर आपको डी फार्मा करना चाहिए कि नहीं।

डी फार्मा करने के फायदे निम्नलिखित हैं:-

  • इस कोर्स के दौरान विद्यार्थियों को दवाइयां के उपयोग, विशेषताएं और एंटीडोट की पूरी जानकारी दी जाती है जिसकी बात आपको दवाइयां की पूरी जानकारी हो जाती है यह ज्ञान आपके जिंदगी भर काम आएगी।

  • मेडिकल सेक्टर की सही नॉलेज हो जाने के बाद आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं या किसी मेडिकल संस्थान में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

  • डी फार्मा करने के बाद अस्पताल, स्वास्थ्य संगठन केंद्र, फार्मेसी, सरकारी विभाग में उच्च पदों पर बड़ी आसानी से नौकरी मिल जाती है।

  • दवाइयां की उच्चतम नॉलेज हो जाने के बाद फार्मास्यूटिकल कंपनी, विश्वविद्यालय, मेडिकल अनुसंधान केंद्र में भी काम करने के कई अवसर मिलते हैं।

  • डी फार्मा एक डिप्लोमा कोर्स होता है आप चाहे तो इस कोर्स को करने के बाद ग्रेजुएशन, मास्टर या मेडिकल में पीएचडी भी कर सकते हैं।

डी फार्मा कोर्स की फीस | D Pharma Course Fees

यदि आप डी फार्मेसी कोर्स करना चाहते हैं तो इस कोर्स को किसी बेहतरीन कॉलेज से ही करें जिससे एक बढ़िया जगह नौकरी लगने की संभावना काफी अधिक हो जाती है। डी फार्मा कोर्स को देश भर में कई कॉलेज करवाते हैं और सभी कॉलेज की फीस उनकी फैसिलिटी के अनुसार अलग-अलग होती है

यदि आप किसी सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय से इस कोर्स को करते हैं तो सामान्य की तुलना में थोड़ा अधिक फीस देना पड़ सकता है। आमतौर पर डी फार्मा कोर्स की फीस ₹50000 से ₹100000 प्रति सालाना होती है और विदेश से इस कोर्स को करने में 10 से 20 लाख रुपए का भी खर्चा आ जाता है।

डी फार्मा के बाद सैलरी | D Pharma Ke Baad Salary

डी फार्मा के बाद सैलरी कितनी होगी यह जानने के लिए वह विद्यार्थी अधिक उत्सुक होंगे जो इस फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। वैसे तो इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी आपके अनुभव, पद और कंपनी पर निर्भर करेगी।

शुरुआती सैलरी की बात करें तो डी फार्मा कोर्स करने के बाद आप 20000 से 25000 रुपए महीना बड़ी आसानी से कमा सकते हैं। लेकिन वहीं यदि आप अपना मेडिकल स्टोर खोलते हैं तो 1 से 2 लाख रुपए महीना भी कमा सकते हैं।

डी फार्मा के लिए के टॉप कॉलेज की लिस्ट 2024

वैसे तो देश भर में डी फार्मा के लिए कई कॉलेज है लेकिन उनमें से कुछ बेहतरीन कॉलेज की लिस्ट निकाल कर हम आपके लिए लेकर आए हैं। ताकि आपको भारत के टॉप कॉलेज को ढूंढने में ज्यादा परेशानी ना हो नीचे दिए गए लिस्ट में आप अपने अनुसार किसी भी कॉलेज का चयन कर सकते हैं।

  • असम डाउन टाउन यूनिवर्सिटी, गुवाहाटी
  • अलीगढ कॉलेज ऑफ फार्मेसी, अलीगढ
  • जामिया हमदर्द विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
  • पारुल विश्वविद्यालय, वडोदरा
  • फार्मेसी संस्थान, निरमा विश्वविद्यालय, अहमदाबाद
  • शनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेस्यूटिकल एजुकेशन और रिसर्च, मोहाली
  • इंस्टिट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी, मुंबई

यदि आपको अभी भी यह समझ नहीं आ रहा है कि डी फार्मेसी के बाद क्या करें तो नीचे दिए गए वीडियो को जरूर देखें जिससे आपको सही निर्णय लेने में और मदद मिलेगी।

अंतिम शब्द

प्रिया पाठको, इस पोस्ट के माध्यम से हमने डी फार्मेसी के बाद क्या करें (D Pharmacy Ke Baad Kya Kare) इसके बारे में डिटेल में बताया है और साथ ही डी फार्मेसी से संबंधित और भी प्रश्नों के जवाब देने की कोशिश की है। मुझे आशा है कि आपको इस कोर्स से संबंधित जानकारी मिल गई होगी।

यदि आपका D Pharma Course से संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो नीचे कमेंट सेक्शन के माध्यम से निश्चित होकर हमसे पूछ सकते हैं और इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए, धन्यवाद!

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

प्रश्न: डी फार्मा करने के बाद क्या बन सकते हैं?

डी फार्मा करने के बाद आप फार्मास्यूटिकल कंपनी में नौकरी, सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में केमिस्ट की जॉब, खुद का मेडिकल स्टोर या अनुसंधान केंद्र में रिसर्चर का काम कर सकते हैं।

प्रश्न: D फार्मा करने के बाद कौन कौन सी जॉब मिलती है?

D फार्मा करने के बाद फार्मेसी इंस्पेक्टर, रिसर्चर, सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में केमिस्ट, मेडिकल रेगुलेटरी अधिकारी के रूप में नौकरी कर सकते हैं या खुद का मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।

प्रश्न: डी फार्मा करने के बाद कितने मेडिकल खोल सकते हैं

डी फार्मा करने के बाद आप अपने नाम से केवल एक ही मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं

प्रश्न: डी फार्मा कितने साल का होता है?

डी फार्मा कोर्स 2 साल का होता है और कोर्स खत्म हो जाने के बाद 3 महीने की ट्रेनिंग भी दी जाती है।

मेरा नाम रवि है और मैं इस ब्लॉक का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूं। मुझे एजुकेशन सेक्टर में लिखने का 6 साल का एक्सपीरियंस है। इस ब्लॉक पर में एजुकेशन, करियर और सिलेबस से संबंधित जानकारी को प्रकाशित करता हूं।

Leave a Comment