BAMS के लिए NEET में कितने मार्क्स चाहिए: General, OBC, SC, ST

Rate this post

यदि आप एमबीबीएस डॉक्टर बनना चाहते हैं और NEET की तैयारी कर रहे हैं तो BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye इसके बारे में आपको पता होना चाहिए। क्योंकि बीएएमएस में एडमिशन लेना काफी विद्यार्थियों का सपना होता है।

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से BAMS के बारे में डिटेल से जानेंगे बहुत सारे विद्यार्थियों को अभी पता ही नहीं होगा कि BAMS क्या होता है? और सबसे जरूरी बात बीएएमएस के लिए नीट में कितने मार्क्स चाहिए यह बच्चों को नहीं पता होता है। तो चलिए मैं इस पोस्ट के माध्यम से आपको BAMS के बारे में विस्तार से बताता हूं।

Contents

बीएएमएस क्या होता है | BAMS Kya Hota Hai

BAMS का पूरा नामBachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery‘ होता है। यह एक मेडिकल कोर्स है जो विद्यार्थी मेडिकल क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। वह D Pharmacy और ANM के अलावा BAMS में एडमिशन लेने के लिए भी तैयारी करते हैं।

बीएएमएस मेडिकल कोर्स की समय अवधि 3 से 5 साल के बीच होती है और जब आपका कोर्स खत्म हो जाता है। तो इसके बाद इंस्टीट्यूट द्वारा 1 साल का इंटर्नशिप भी करती है जिससे विद्यार्थियों को मेडिकल के प्रैक्टिकल चीजों के बारे में पता चलता है।

जो विद्यार्थी BAMS में एडमिशन लेना चाहते हैं नीट एग्जाम को अच्छे नंबरों से पास करना पड़ता है। यदि आप नीट एग्जाम को पास नहीं करते हैं तो इसकी बहुत कम संभावना है कि आपका एडमिशन BAMS में होगा।

बीएएमएस में एडमिशन वही विद्यार्थी लेते हैं जो आयुर्वेद डॉक्टर बनना चाहते हैं। क्योंकि BAMS में आयुर्वेदिक पढ़ाई जैसे: आयुर्वेदिक विज्ञान, रसायन शास्त्र, जड़ी बूटियां, आयुर्वेदिक औषधि, आहार, रोग-निदान, प्राणायाम, योग इत्यादि और भी कई चीज सिखाई जाती है।

BAMS की पढ़ाई करने के बाद बीएएमएस की डिग्री मिल जाती है। इसके बाद आप एक प्रोफेशनल आयुर्वेदिक डॉक्टर बन जाते हैं इस पोस्ट पर आप अपना खुद का आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर, निजी क्लीनिक, निजी अस्पताल या कैटिगरी मैनेजर, मेडिकल ऑफिसर पदों पर हाई सैलरी वाली जॉब कर सकते हैं।

बीएएमएस के लिए नीट में कितने मार्क्स चाहिए | BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye

BAMS में एडमिशन लेना कोई आसान काम नहीं है यह कोर्स करने के लिए आपको केवल नीट एग्जाम पास ही नहीं करना पड़ेगा। बल्कि नीट एग्जाम में काफी अच्छे नंबर भी लाने होंगे मैं आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से यही बताने वाला हूं कि BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye यह जानने के बाद आप अपनी तैयारी और बेहतर ढंग से कर पाएंगे।

BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye
BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye

बहुत बच्चों को लगता है कि कम नंबर लाने पर भी BAMS में एडमिशन हो जाता है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कैटिगरी के अनुसार BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye यह हमने नीचे डिटेल में बताया है।

जनरल कैटेगरी: जो विद्यार्थी जनरल वर्ग से आते हैं उन्हें सबसे अधिक मेहनत करने की आवश्यकता है। जरनल कैटेगरी के विद्यार्थियों को BAMS में एडमिशन लेने के लिए कम से कम 540 से अधिक नंबर लाने की आवश्यकता होगी तभी बीएएमएस में एडमिशन होगा।

ओबीसी (OBS) कैटिगरी: ओबीसी के छात्रों को BAMS में एडमिशन लेने के लिए नीट एग्जाम में कम से कम 500 से अधिक नंबर लाने होंगे क्योंकि ओबीसी की भी कट ऑफ काफी अधिक जाती है।

एससी (SC) कैटिगरी: जो विद्यार्थी एससी वर्ग से आते हैं उन्हें BAMS एडमिशन लेने के लिए काफी छूट दी गई है। बीएएमएस में एडमिशन लेने के लिए एससी कैटेगरी के छात्रों को 430 से अधिक लाइन नंबर लाने होंगे।

एसटी (ST) कैटिगरी: एसटी कैटिगरी के छात्रों को BAMS में सबसे अधिक छूट दी गई है। यदि आप एसटी वर्ग से आते हैं तो नीट एग्जाम में 400 से अधिक है नंबर लाने पर BAMS एडमिशन हो जाएगा।

BAMS के लिए NEET में कितने परसेंटेज चाहिए?

बहुत सारे विद्यार्थियों को BAMS में एडमिशन लेने के लिए नीट में कितने परसेंट आने चाहिए यह जानना चाहते हैं। तो दोस्तों मैंने सिर्फ आपके लिए पिछले 5 सालों के कट ऑफ का अध्ययन किया है। अब मैं आपको बताता हूं कि यदि आप बीएएमएस में एडमिशन लेना चाहिए तो नीट में आपके कितने पर्सेंट होने चाहिए।

जनरल कैटेगरी: जो विद्यार्थी जनरल केटेगरी से आते हैं उन्हें नीट में 720 में से 540 अर्थात 77% लाने होंगे तभी जाकर उनका एडमिशन बीएएमएस में होगा नहीं तो आप अपना पसंदीदा कोर्स नहीं कर पाएंगे।

ओबीसी कैटिगरी: ओबीसी कैटेगरी के विद्यार्थियों को नीट में BAMS में एडमिशन लेने के लिए 500 नंबर लाने होंगे जो प्रतिशत में 70% होते हैं।

SC कैटिगरी: ऐसी कैटेगरी के विद्यार्थियों को BAMS में एडमिशन लेने के लिए 430 नंबर लाने होंगे जो 65% प्रतिशत होंगे।

ST कैटिगरी: जो विद्यार्थी ST वर्ग से आते हैं उन्हें बीएएमएस में दाखिला लेने के लिए नीट में काम से कम 60% लाने होंगे तभी उन्हें BAMS में एडमिशन मिलेगा।

BAMS के लिए NEET में कितने परसेंटेज चाहिए? इसके बारे में हमने ऊपर अनुमानित आंकड़ा बताया है। एडमिशन के लिए कट ऑफ लिस्ट काम – ज्यादा होती रहती है।

720 में से BAMS के लिए नीट में कितने नंबर चाहिए?

जो विद्यार्थी बीएएमएस में एडमिशन लेना चाहते हैं उन्हें नीट में कम से कम 720 में से 470 से 550 नंबर लाने होंगे आप अपने कैटिगरी के अनुसार यह देख ले की आप आपको कितने नंबर लाने हैं।

यदि आप इससे कम नंबर लाते हैं तो इसकी बहुत कम संभावना है कि आपका एडमिशन BAMS में होगा। इसलिए मन लगाकर की जान से मेहनत कीजिए मैं आशा करता हूं कि आपको अपना पसंदीदा कोर्स और कॉलेज जरूर मिले।

BAMS में एडमिशन के लिए योग्यता | BAMS Course Eligibility in Hindi

यदि आप बीएएमएस अर्थात बैचलर आफ आयुर्वैदिक मेडिसिन एंड सर्जरी में एडमिशन लेना चाहते हैं। तो आपको अपनी योग्यता सिद्ध करनी होगी BAMS में एडमिशन लेने की पात्रता निम्नलिखित है:-

  • बीएएमएस में एडमिशन लेने के लिए 12वीं साइंस स्ट्रीम (Physics, Chemistry, Biology) से सब कम से कम 60% अंकों से पास होना चाहिए।
  • विद्यार्थी की आयु 17 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • बीएएमएस में एडमिशन लेने के लिए नीट के एग्जाम में अच्छे अंक होने चाहिए तभी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिलेगा।
  • कई BAMS के कॉलेज जैसे हैं जो अपना खुद का प्रवेश परीक्षा रखते हैं यदि आप ऐसे कॉलेज में एडमिशन ले रहे हैं तो प्रवेश परीक्षा को भी पास करना होगा।
  • आवेदक भारत का स्थाई नागरिक होना जरूरी है।

BAMS एडमिशन लेने के लिए टॉप सरकारी कॉलेज?

यदि आप बीएएमएस में एडमिशन लेने के लिए टॉप सरकारी कॉलेज ढूंढ रहे हैं तो यहां पर मैंने भारत के सबसे बेहतरीन कॉलेज की लिस्ट दी है। आप इनमें से किसी भी एक कॉलेज में बीएएमएस करने के लिए बेझिझक एडमिशन ले सकते हैं।

BAMS Course Karne Ke Baad Salary

S.Noकॉलेज
1.अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआईआईए), नई दिल्ली
2.राजकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय, पटना
3.राजीव गांधी स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, बैंगलोर
4.राजकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय, जयपुर
5.बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
6.गुजरात आयुर्वेद यूनिवर्सिटी, गुजरात
7.राजकीय आयुर्वेदिक कालेज, लखनऊ
8.आयुर्वेदिक और यूनानी तिब्बिया कॉलेज, नई दिल्ली
9.सरकारी आयुर्वेद कॉलेज, गुवाहाटी
10.सरकारी आयुर्वेदिक कॉलेज, जामनगर

प्राइवेट कॉलेज में BAMS की फीस कितनी होती है?

दोस्तों आपको तो पता ही है सरकारी कॉलेज की तुलना में किसी भी प्राइवेट कॉलेज की फीस काफी अधिक होती है। यदि आपका एडमिशन किसी सरकारी कॉलेज में नहीं होता है तो Private College में BAMS करने के लिए 10 लाख रुपए से 30 लाख रुपए प्रति वर्ष लग जाता है।

किसी-किसी प्राइवेट कॉलेज में BAMS करने के लिए और भी अधिक 30 लाख रुपए से भी अधिक देने पड़ते हैं। इतने पैसे में तो आप यूक्रेन से MBBS की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं।

सरकारी कॉलेज में बीएएमएस की फीस कितनी होती है?

यदि आपका एडमिशन BAMS के किसी सरकारी कॉलेज में हो जाता है तो यह काफी अच्छी बात होगी। क्योंकि गवर्नमेंट कॉलेज में BAMS कोर्स की फीस बहुत कम होती है। किसी सरकारी कॉलेज से बीएएमएस कोर्स करने के लिए ₹20000 से ₹50000 प्रति साल लगता है जो बाकी में काफी कम है।

BAMS Course करने के बाद करियर विकल्प?

BAMS कोर्स आयुर्वेदिक मेडिकल सेक्टर का सर्वोच्च कोर्स होता है। इस कोर्स को करने के बाद आप एक प्रोफेशनल आयुर्वेदिक डॉक्टर बन जाते हैं। इसके बाद आयुर्वेदिक सेक्टर में एक से बढ़कर एक करियर ऑप्शन मौजूद है।

काफी लोगों को लगता है कि अब आयुर्वेदिक डॉक्टर के पास कौन जाता है लेकिन आपका सोचना बिल्कुल गलत है। क्योंकि यदि आप एक प्रोफेशनल आयुर्वैदिक डॉक्टर बन जाते हैं तो केवल औषधियां से बड़ी-बड़ी बीमारियों का इलाज कर सकते हैं।

बीएएमएस कोर्स करने के बाद बेस्ट करियर विकल्प कुछ इस प्रकार हैं:-

  • आयुर्वैदिक डॉक्टर
  • साइंटिस्ट
  • आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट
  • मेडिकल मैनेजर
  • जूनियर क्लीनिकल ट्रायल कॉर्डिनेटर
  • आयुर्वेदिक चिकित्सा विशेषज्ञ
  • मेडिकल सेल्स रिप्रेजेंटेटिव
  • लेक्चरर
  • एरिया सेल्स मैनेजर
  • थेरेपिस्ट
  • सेल्स एग्जीक्यूटिव

BAMS कोर्स के बाद नौकरी के विभिन्न सेक्टर?

जैसा कि मैं आपको पहले भी बताया बीएएमएस कोर्स आयुर्वेदिक की प्रोफेशनल डिग्री होती है। इसलिए इस कोर्स को करने के बाद आपको नौकरी करने के लिए विभिन्न अपॉर्चुनिटी मिलेगी।

हॉस्पिटलआयुर्वेदिक रिसोर्ट
कॉलेज लेक्चरक्लीनिकल ट्रायल्स
एजुकेशन सेक्टरइंस्टिट्यूट
सार्वजनिक स्वास्थ्य क्षेत्रनर्सिंग होम
इंश्योरेंस सेक्टरगवर्नमेंट हॉस्पिटल
प्राइवेट हॉस्पिटलआयुर्वेद स्वास्थ्य और पर्यटन क्षेत्रों में
मीडिया और प्रकाशनहेल्थकेयर आईटी
लाइफ साइंस सेक्टरफार्मेसी सेक्टर
फार्मास्युटिकल उद्योग मेंस्पा रिसोर्ट

BAMS कोर्स करने के बाद सैलरी | BAMS Course Karne Ke Baad Salary

एक प्रोफेशनल डॉक्टर बनने के बाद आपकी सैलरी कई बातों पर निर्भर करती है जैसे: आपका अनुभव, काम करने का स्थान, नौकरी का प्रकार, कंपनी और डॉक्टर के क्षेत्र में तो मौसम का भी बहुत अधिक महत्व रखता है।

BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye

BAMS करने के बाद आप एक आयुर्वेदिक डॉक्टर बन जाते हैं। इसके बाद आपकी सैलरी ₹35000 से ₹80000 प्रति महीना होती है यह एक अनुमानित सैलरी है। यदि आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर या क्लीनिक शुरू करते हैं तो आपकी सैलरी इससे भी कई अधिक हो सकती है।

NEET के लिए 10वीं में कितने मार्क्स चाहिए?

मेरे ख्याल से दसवीं क्लास में ऐसे बहुत कम विद्यार्थी होते हैं जिन्हें पहले ही पता होता है कि उन्हें आगे चलकर नीट की तैयारी करनी है। भले ही आपको पता होगा लेकिन जब मैं दसवीं क्लास में था तो मुझे डॉक्टर बनना है या इंजीनियर यह पता नहीं था।

लेकिन यदि आप जानना चाहते हैं की नीट के लिए 10वीं में कितने मार्क्स चाहिए। तो आपके काम से कम 60% से अधिक अंक होने ही चाहिए ताकि आगे चलकर आपको कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।

NEET के लिए 12वीं में कितने मार्क्स चाहिए?

NEET के लिए 12वीं में कितने मार्क्स चाहिए? यह सवाल काफी अधिक पूछा जाता है। क्योंकि 12वीं कक्षा के नंबर आपके नीट एग्जाम के लिए काफी अधिक मायने रखती है। यदि आप चाहते हैं कि आपको भविष्य में कोई भी परेशानी का सामना न करना पड़े तो मैं आपको सलाह देना चाहूंगा कि 12वीं क्लास में काम से कम 60% से अधिक नंबर लाने की कोशिश करें। इसके बाद नीट के एग्जाम में के बैठने के लिए आपको कोई दिक्कत नहीं आएगी।

नीट में कितने नंबर आने पर सरकारी कॉलेज मिलता है?

दोस्तों यदि आप कम पैसे में उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं। तो कोशिश करिए की नीट एग्जाम पास करने के बाद आपको सरकारी कॉलेज ही मिले क्योंकि सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस हो या कोई और मेडिकल कोर्स बहुत ही कम पैसे में हो जाती है। वहीं प्राइवेट कॉलेज से एमबीबीएस करने में करोड़ों रुपए खर्च हो जाते हैं।

नीट एग्जाम में यदि आपके 600 से अधिक नंबर आ जाते हैं तो बिना किसी दिक्कत के सरकारी कॉलेज मिल जाएगा लेकिन जो विद्यार्थी जनरल वर्ग से आते हैं। उनके 600 से कम नंबर है तो उन्हें सरकारी कॉलेज मिलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

BDS के लिए नीट में कितने मार्क्स चाहिए?

BDS भी मेडिकल का एक उच्च कोर्स होता है यदि आप बीडीएस में एडमिशन लेना चाहते हैं। तो नीट में काफी अच्छे नंबर होने चाहिए तभी जाकर संभावना रहेगी कि आपको एक बढ़िया कॉलेज मिले BDS के लिए नीट में कितने मार्क्स चाहिए यह आप नीचे दिए गए टेबल के माध्यम से जान सकते हैं।

कैटेगरीनीट में अंक
General580+ अंक
OBC570+ अंक
SC470+ अंक
ST450+ अंक

निष्कर्ष:

जो विद्यार्थी आयुर्वैदिक डॉक्टर बनना चाहते हैं उनके लिए BAMS कोर्स सबसे बढ़िया है। यदि आपका सपना आयुर्वेदिक डॉक्टर बनना है तो मन लगाकर पढ़ाई कीजिए और नीट में अच्छे नंबर लाने की कोशिश कीजिए ताकि आपको अपना पसंदीदा मेडिकल कॉलेज मिल जाए।

इस पोस्ट के माध्यम से हमने नीट एग्जाम के बारे में और BAMS Kya hota hai, BAMS Ke Liye NEET Me Kitne Marks Chahiye, बीएएमएस कोर्स की फीस, योग्यता, भारत के टॉप कॉलेज एवं BAMS के बारे में और भी बहुत कुछ बताया है।

मैं उम्मीद करता हूं कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको BAMS कोर्स के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी।फिर भी यदि आपका कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स के माध्यम से बताएं हम आपके सारे सवालों के जवाब जरूर देंगे, धन्यवाद!

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

प्रश्न: बीएएमएस के लिए नीट में कितने अंक चाहिए?

बीएएमएस के लिए नीट में जनरल कैटेगरी के लिए 550+, ओबीसी कैटेगरी के लिए 500+ एससी कैटेगरी के लिए 430+ और एसटी कैटिगरी के लिए 400+ अंक होने चाहिए तभी BAMS मिलेगा।

प्रश्न: बीएएमएस की 1 साल की फीस कितनी है?

सरकारी कॉलेज में BAMS की 1 साल की फीस ₹20000 से ₹50000 प्रतिवर्ष होती है और प्राइवेट कॉलेज में ₹1,00,000 से ₹2,00,000 प्रतिवर्ष होती है।

प्रश्न: BAMS सरकारी डॉक्टर की सैलरी कितनी होती है?

BAMS डॉक्टर की सैलरी ₹300000 से ₹800000 महीना होती है यदि वह डॉक्टर अपना खुद का मेडिकल स्टोर या क्लीनिक खोलना है तो वह और भी पैसे कमा सकता है।

प्रश्न: BAMS में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

BAMS में 4 से 5 सब्जेक्ट होते हैं सभी सब्जेक्ट को दो भागों में बांटा गया है। सभी विषयों को 100 अंक के लिखित पेपर, वाइवा-वॉयस, प्रदर्शन और प्रैक्टिकल में बांटा गया है।

प्रश्न: BAMS कॉलेज के लिए सबसे कम कटऑफ क्या है?

2023 के कट-ऑफ के अनुसार BAMS के लिए सबसे कम कट-ऑफ सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 720-137 और अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के लिए 136-107 है।

मेरा नाम रवि है और मैं इस ब्लॉक का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूं। मुझे एजुकेशन सेक्टर में लिखने का 6 साल का एक्सपीरियंस है। इस ब्लॉक पर में एजुकेशन, करियर और सिलेबस से संबंधित जानकारी को प्रकाशित करता हूं।

Leave a Comment